January 25, 2010

ये तिरंगे तेरी चमक को .........



गड़तंत्र दिवस पर पे है एक छोटी सी रचना जो पूरी तरह से इस भारत की शान तिरंगों को समर्पित है . इसमें जुड़ी इस विडियो को देखे जो को मोबाइल फ़ोन के कैमरे से तिरंगे के प्यार को दर्शया गया है ।


तिरंगे तेरी चमक को हम सलाम करते है ॥
तेरी रक्षा में अपने खून को तेरे नाम करते है ॥

तुझे झुकने नहीं देंगे ये ऐलान करते है ।
तेरे साये में ख़ुद को बलिदान करते है ॥

तेरे खिलते हुए रंग को देख कर हम भी झूमा करते है
तेरी खुशी के लिए कुर्बान हुए सैनिको को याद करते है ॥

विश्व में लहराता रहे इसी तरह यही हम कल्पना करते है ।
ए तिरंगा तेरी चमक को हम सलाम करते है



देवेश प्रताप

7 comments:

'अदा' said...

तुझे झुकने नहीं देंगे ये ऐलान करते है ।
तेरे साये में ख़ुद को बलिदान करते है ॥

वाह !!!
बहुत खूब..
जोश से भरी हुई कविता....
देश के नाम आपका सलाम ..पसंद आया..!

निर्मला कपिला said...

तुझे झुकने नहीं देंगे ये ऐलान करते है ।
तेरे साये में ख़ुद को बलिदान करते है ॥
लाजवाब प्रस्तुति बधाई

अजय कुमार said...

सुंदर भावनाओं से ओतप्रोत अच्छी रचना

Harsh Vardhan Harsh said...

ए तिरंगे तेरी चमक को हम सलाम करते है
जय हिन्द।

श्याम कोरी 'उदय' said...

.... बहुत सुन्दर....प्रभावशाली रचना !!!

Megha said...

hey devesh great work ........and hope that you get success in everything you do ......thanx

VICHARO KA DARPAN said...

kavita par tipaddi kerne ke liye aap sab ka bahut bahut shukriya ........jai hind

एक नज़र इधर भी

Related Posts with Thumbnails