June 15, 2010

हम लौट आये ........

देवेश प्रताप

विद्यार्थी जीवन में सबसे बड़ा आनंद होता है । पढाई , मौज मस्ती सर पर किसी भी प्रकार का कोई बोझ नहीं .....केवल अपने लक्ष्य को ध्यान में रखना .....जिससे भविष्य सुरक्षित रहे इसके अलावा कोई फ़िक्र नहीं .......ऐसा ही कुछ पल बिता रहे है हम लोग । कॉलेज से छुटियाँ हुई तो चल दिए अपने गाँव ..........बड़ा आनंद आता है घर जा कर जब तक मन किया तब तक गांव में मौज मस्ती किये ........और फिर लौट आये आपने कर्म भूमि की ओर .......अब पढाई भी पूरी होने वाली है पढाई खत्म होते है मंजिल की तलाश में जुट जाना है ......फिर शायद इतना वक्त न मिले घूमने -फिरने का इसलिए अभी इस वक्त भरपूर आनंद उठा रहे है ........ ।
ब्लॉग की दुनिया एक परिवार जैसे लगती है । इतने दिनों में दूर रहने न कही आप स की याद आती रहती थी ......क्यूंकि इतनी अच्छी अच्छी पोस्टें जो पढ़ने को नहीं मिल रही थी । खैर अब हम आगये है तो धीरे धीरे करके सारी पोस्टें पढेंगे । ........अच्छा ये बताइए आप लोग कहीं हमें भूल तो नहीं गये ............वैसे भूले नहीं होंगे .....आप सब का स्नेह बराबर आपकी टिप्पणियों द्वारा प्राप्त होते रहे । इसी तरह अपने स्नेह बांटते रहिये ..........और आशीर्वाद देते रहिये । आप सब का बहुत बहुत धन्यवाद ।

16 comments:

सम्वेदना के स्वर said...

चलो भाई देवेश!! घर पर सब राज़ी खुशी होंगे ऐसी हमारी कामना है..तुम्हारी कमी बहुत अखरती रही पिछले दिनों... ख़ुद तुमने कहा कि परिवार सा लगता है ये जगत... तो एक सदस्य की कमी तो खलेगी ही...बस लगे रहो!!

Udan Tashtari said...

चले आईये...पुनः स्वागत!!

दीपक 'मशाल' said...

गज़ब आदमी हो भाई.. खुद ही परिवार का सदस्य कहते हो और फिर पूछते हो कि भूले नहीं होंगे....

चला बिहारी ब्लॉगर बनने said...

अब अईसे बिना बता कर जाओगे त मन में घबराहट त होबे करेगा! आगे से बता कर जाना... पढाई खतम होने के बाद, भगवान सफलता दे एही कामना है!! ऊ दिन हम मिठाई खिलाएंगे…

kshama said...

Bhoole to nahee the,khoj zaroor rahe the!FIR darj honewali thi,gumshudaki fahrist me..aur aapka punragaman ho gaya!

ajit gupta said...

आपका स्‍वागत है इस ब्‍लागिंग परिवार में।

sanu shukla said...

achha hai ,,,

आचार्य जी said...

सुन्दर लेखन जारी रखें।

निर्मला कपिला said...

घर के लोगों को भी कहीं भूला जाता है चले आओ स्वागत है।

anoop joshi said...

sir ham to naye naye aaye hai is pariwaar me.

दिगम्बर नासवा said...

आप लॉट आए जान कर अच्छा लगा ... आशा है घर में सब कुशल होगा ... आपकी नयी पोस्ट की प्रतीक्षा रहेगी ...

EKTA said...

welcome bak again..
missed u..

Apanatva said...

tabhee mai kanhoo aap nadarad kanha ho gaye....?
dua hai jindagee bhar aise hee apnee jado se jude raho aur jeevanpath par aage badte raho...

निर्मला कपिला said...

अरे देवेश भला आप जैसे अच्छे ब्लागर को भी कोई भूल सकता है। स्वागत है फिर से अपने जगत मे लौट आने के लिये । शुभकामनायें

संजय भास्कर said...

welcome bak again..
missed u..........devesh

ekal said...

hi.... sir hum b laut aaye ,
raste me kashi vishwanath se aap ke pratapgar hote huye aaye

एक नज़र इधर भी

Related Posts with Thumbnails